रोहित व सोनिया बने सर्वश्रेष्ठ वालिंटियर

विवेकानंद पीजी कॉलेज के सात दिवसीय एनएसएस शिविर में बताया श्रम का महत्व


गांव डहीना स्थित विवेकानंद पीजी कॉलेज के सात दिवसीय एनएसएस शिविर का समापन बुधवार को हो गया। इस मौके पर विवेकानंद शिक्षा समिति के चेयरमैन रामानंद बतौर मुख्य अतिथि मौजूद रहे। समापन समारोह में विवेकानंद कॉलेज ऑफ एजूकेशन विवेकानंद पब्लिक स्कूल लाखनौर के डायरेक्टर एडवोकेट सुधीर यादव, विवेकानंद वरिष्ठ मा. विद्यालय डहीना के डायरेक्टर नरेश यादव, मैनेजिंग डायरेक्टर कृष्णा यादव, कॉलेज ऑफ एजूकेशन की प्राचार्या हेमलता, पीजी कॉलेज की निदेशक सुषमा यादव प्राचार्य पवन कुमार विशेष रूप से मौजूद रहे। सात दिवसीय एनएसएस शिविर के समापन पर एनएसएस अधिकारी श्रीमती मनोज कुमारी ने सात दिन के कार्यों को विस्तार से बताया। विवेकानंद स्कूल के डायरेक्टर नरेश यादव ने योग मेडिटेशन के बारे में जागरुक किया। कॉलेज ऑफ एजूकेशन विवेकानंद पब्लिक स्कूल लाखनौर के डायरेक्टर एडवोकेट सुधीर यादव ने विद्यार्थियों को अधिकार कर्तव्य का सही से प्रयोग करने के लिए जागरुक किया। मैनेजिंग डायरेक्टर कृष्णा यादव ने विद्यार्थी जीवन में अनुशासन के महत्व के बारे में बताया। विवेकानंद शिक्षा समिति के चेयरमैन रामानंद ने बच्चों को संबोधित करते हुए बताया कि व्यक्ति को चित्र का नहीं चरित्र का पूजन करना चाहिए। पीजी कॉलेज की निदेशिका श्रीमती सुषमा यादव ने विद्यार्थियों को उनके एनएसएस में उनके योगदान के लिए धन्यवाद किया। सभी अतिथिगण का अभिनंदन किया गया। कालेज प्राचार्य पवन कुमार ने सभी अतिथियों का धन्यवाद किया। कार्यक्रम के अंत में प्रतिभागियों को स्मृति चिह्न देकर पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम में बेस्ट वालंटियर का पुरस्कार रोहित सोनिया को मिला। इस मौके पर कालेज के सभी स्टॉफ सदस्य मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *