विपक्ष एकजुट हुआ तो 2024 में बीजेपी की जीत मुश्किल: राहुल

रणघोष अपडेट. देशभर से 

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि अगर विपक्षी दल एकजुट हुए तो बीजेपी के लिए 2024 का लोकसभा चुनाव जीतना बेहद मुश्किल होगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी के खिलाफ अंडर करंट है और विपक्ष को एक विजन के साथ सामने आना होगा। राहुल ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा से उन्हें काफी कुछ सीखने को मिला है और वह इस यात्रा में शामिल होने वाले सभी लोगों का धन्यवाद करना चाहते हैं। राहुल ने बीजेपी और आरएसएस के लोगों का भी उन पर आक्रमण करने के लिए धन्यवाद अदा किया। उन्होंने कहा कि बीजेपी और आरएसएस को वह अपना गुरु मानते हैं क्योंकि वह उन्हें रास्ता दिखा रहे हैं कि उन्हें क्या करना चाहिए और क्या नहीं। उन्होंने एक बार फिर कहा कि उनके खिलाफ अभियान चलाने के लिए काफी पैसा खर्च किया गया है। राहुल कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकारों के सवालों के जवाब दे रहे थे।

अखिलेश के बयान पर दिया जवाब

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के इस बयान पर कि बीजेपी और कांग्रेस एक जैसे हैं, राहुल गांधी ने कहा बीजेपी और कांग्रेस कभी एक नहीं हो सकते क्योंकि अगर बीजेपी और कांग्रेस एक होते तो नरेंद्र मोदी कभी भी कांग्रेस मुक्त भारत की बात नहीं कहते। उन्होंने कहा कि दोनों दलों के बीच राजनीतिक विचारधारा की लड़ाई है। राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी को हराने के लिए एक विचारधारा की जरूरत होगी और अगर आप सपा को देखें तो उनके पास राष्ट्रीय विचारधारा नहीं है क्योंकि सपा का विचार केरल, कर्नाटक और बिहार में नहीं चलेगा इसलिए एक केंद्रीय विचारधारा की जरूरत है और वह कांग्रेस पार्टी ही दे सकती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की भूमिका यह रहेगी कि हम विपक्षी दलों को सम्मान दें और वह भी हमें सम्मान दें। राहुल ने कहा कि वह शहीदों के परिवार से हैं, उनके पिता और उनकी दादी शहीद हुई हैं और जब कोई जवान शहीद होता है तो उसके परिवार वालों पर क्या गुजरती है, वह इसे समझ सकते हैं जबकि बीजेपी के लोग इसे नहीं समझ सकते। राहुल ने कहा कि वह चाहते हैं कि भारत की किसी भी फोर्स का कोई भी जवान शहीद ना हो। कांग्रेस नेता ने कहा कि सेना का राजनीतिक इस्तेमाल नहीं होना चाहिए।

चीन और पाकिस्तान एक हो गए

राहुल ने कहा, “मोदी सरकार ने चीन के मामले को ढंग से नहीं हैंडल किया। कांग्रेस की विदेश नीति का लक्ष्य था कि चीन और पाकिस्तान को एक नहीं होने देना है लेकिन आज चीन और पाकिस्तान एक हो गए हैं और यह बहुत खतरनाक बात है और ऐसा मोदी सरकार द्वारा विदेश नीति को ढंग से हैंडल न करने की वजह से हुआ है। सरकार को सेना की तीनों फोर्स की बात सुननी चाहिए और सेना का राजनीतिक इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।” राहुल ने कहा कि सीमा पर जो कुछ हो रहा है उसे छुपाना नहीं चाहिए। चीन भारत की 2000 स्क्वायर फीट जमीन ले गया है जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोई भी हमारे घर के अंदर नहीं घुसा है और इससे गलत मैसेज जा रहा है।कांग्रेस नेता ने कहा कि भारत सरकार को चीन से कहना चाहिए कि आप हमारी सीमा के अंदर आए हैं और यहां से निकलिए। उन्होंने कहा कि सरकार को आर्मी,  एयरफोर्स, नेवी के पीछे नहीं छुपना चाहिए और यह कायरता है। बताना होगा कि इस साल 9 दिसंबर को तवांग सेक्टर में भारत और चीन के सैनिकों के बीच झड़प हुई थी। राहुल ने कहा कि विपक्ष के सभी नेता कांग्रेस के साथ खड़े हैं लेकिन वह इस पर टिप्पणी नहीं करेंगे कि कौन साथ है और कौन नहीं और जो कोई भी भारत जोड़ो यात्रा में हमारे साथ जुड़ना चाहता है, उसके लिए हमारे दरवाजे खुले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *