विपक्ष एकता बैठक में इस बार 24 पार्टियां, सोनिया गांधी ने डिनर पर बुलाया

रणघोष अपडेट. देशभर से 

विपक्षी एकता की बेंगलुरु बैठक में इस बार 24 पार्टियां हिस्सा लेंगी। कांग्रेस नेता सोनिया गांधी 17 जुलाई को डिनर पर तमाम विपक्षी नेताओं को बुला सकती है। विपक्षी एकता के लिए अगली बैठक 17-18 जुलाई को बेंगलुरु में होगी।  न्यूज एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से बताया कि संयुक्त विपक्ष की दूसरी बैठक में कुल 24 दलों के शामिल होने की संभावना है। इस बार इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग को भी एंट्री दी जा रही है। दिल्ली अध्यादेश मुद्दे पर पहली पटना बैठक में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी में स्पष्ट टकराव के बाद भी आप को निमंत्रण दिया गया है। खबर है कि  17 जुलाई को सोनिया गांधी पार्टी के सभी नेताओं को रात्रिभोज पर आमंत्रित कर सकती हैं।एएनआई की रिपोर्ट में कहा गया है कि सोनिया गांधी के बेंगलुरु बैठक में शामिल होने की संभावना है। इससे पहले कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार ने भी यही दावा किया था।

पहली और दूसरी बैठक के बीच क्या हुआ?

इस महीने विपक्ष की पहली और दूसरी बैठक के बीच राजनीतिक तौर पर बहुत कुछ हुआ है। एनसीपी शरद पवार और अजित पवार के बीच विभाजित हो गई और दोनों ने ही असली एनसीपी होने का दावा किया। शरद पवार विपक्ष को एक साथ लाने में अहम भूमिका निभा रहे हैं। पहली बैठक में शामिल हुए अजित पवार खेमे के नेता प्रफुल्ल पटेल ने बैठक का मजाक उड़ाया और कहा कि उन्हें विपक्षी एकता बैठक पर हंसने का मन हो रहा है क्योंकि सभी दलों के अपने अलग-अलग एजेंडे हैं। दूसरा बड़ा घटनाक्रम पश्चिम बंगाल से आ रहा है। जहां पंचायत चुनाव में तृणमूल को भारी जीत मिली है। इससे उसकी ताकत बढ़ गई है। देखना है कि बेंगलुरु बैठक में वो किस तरह पेश आती है। ममता बनर्जी कोई मांग तो नहीं खड़ी कर सकतीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *