एम्स को लेकर सहकारिता मंत्री डॉ बनवारी लाल ने ली बैठक

–एम्स निर्माण पर माजरा गांव की विश्व स्तर पर होगी पहचान:डॉ बनवारी लाल


प्रदेश के सहकारिता मंत्री डॉ बनवारी लाल ने अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के निर्माण को लेकर मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल, केन्द्रीय मंत्री राव इन्द्रजीत सिंह व माजरा गांव के लोगों का आभार प्रकट किया है, जिन्होंने एम्स प्रोजैक्ट के लिए रूचि लेकर इसे सिरे चढ़ाने का कार्य किया है। डॉ बनवारी लाल गुरुवार लोक निर्माण विश्राम गृह रेवाडी में एम्स निर्माण को लेकर अधिकारियों व माजरा गांव के लोगों के साथ बैठक कर रहे थे। बैठक में उपायुक्त यशेन्द्र सिंह, एसडीएम रेवाडी रविन्द्र यादव, नायब तहसीलदार अजय, केन्द्रीय मंत्री राव इन्द्रजीत सिंह के राजनैतिक सचिव रवि यादव के अलावा माजरा गांव के यशु प्रधान, जितेन्द्र यादव, देशराज सरपंच, परिक्षत, विनोद उर्फ कालिया, दिलबाग, नरेन्द्र आचार्य, विपिन कुमार, विकास कुमार, सुखबीर पूर्व सरपंच, बलवान सिंह, रामनरेश, मंजीत कुमार, नरेश कुमार, महेन्द्र  सिंह, रोहताश पंच व माजरा गांव के अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे। सहकारिता मंत्री डॉ बनवारी लाल ने कहा कि अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल व केन्द्रीय मंत्री राव इन्द्रजीत ने जो वादा किया था उसे निभाया है तथा अब एम्स के लिए बाकि औपचारिकताएं पूरी की जा रही है। उन्होंने कहा कि माजरा गांव के निवासियों की 40 लाख रूपए प्रति एकड़ मुआवजा व एससीओ की बात मान ली गई है। उन्होंने इस अवसर पर माजरा गांव के निवासियों की एससीओ को लेकर जो शंका थी उनको भी दूर किया। मंत्री ने कहा कि एससीओ के डैव्लअप का विकल्प ग्रामीणों के पास है उस पर वे स्वयं फैसला करने के लिए स्वतंत्र है। डॉ बनवारी लाल ने कहा कि ग्रामीण सोसायटी बनाकर बिल्डिंग पास करवाकर स्वयं बनाएं या फिर एचएसआईआईडीसी से डैव्लअप कराएं, इस पर निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र है। उन्होंने कहा कि एम्स के लिए जिनकी जमीन ली जाएगी उन्हीं को एससीओ दिया जाएगा। डॉ बनवारी लाल ने कहा कि एम्स के निर्माण के बाद माजरा गांव का नाम विश्व के नक्शे पर अपनी पहचान बनाएगा। उन्होंने कहा कि इलाके के विकास के लिए माजरा के लोगों ने रूख नरम रखा तथा यह प्रोजैक्ट हमें मिल गया। यदि माजरा के लोग जमीन देने के लिए आगे नहीं आते तो यह प्रोजैक्ट हमारे हाथ से निकल जाता। उन्होंने कहा कि माजरा में एम्स के निर्माण से रेवाडी, महेन्द्रगढ, चरखी दादरी, भिवानी, झूंझनू, अलवर जिला के लोगों को लाभ मिलेगा। इसके अतिरिक्त  निमराना, भिवाडी व बावल में कम्पनियों में कार्य करने वाले लाखों लोगों को भी इसका फायदा होगा। इस एम्स बनने से सभी को विश्वस्तरीय चिकित्सा सुविधाएं मिलेगी और इस मैडिकल संस्थान के बनने से क्षेत्र के युवाओं को रोजगार मिलेगा। डॉ बनवारी लाल ने एम्स निर्माण को लेकर वित एवं योजना विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टीवी एसएन प्रसाद और चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान के अतिरिक्त मुख्य सचिव आलोक निगम से दूरभाष पर बात भी की। केन्द्रीय मंत्री राव इन्द्रजीत सिंह के राजनैतिक सचिव रवि यादव ने कहा कि जिला प्रशासन, राव इन्द्रजीत सिंह व डॉ बनवारी लाल ने एम्स निर्माण के लिए जो प्रयास किए वह सराहनीय है। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के लिए यह बड़े गौरव की बात होगी कि क्षेत्र में विश्वस्तरीय चिकित्सा संस्थान बनने जा रहा है। रवि यादव ने कहा कि केन्द्रीय मंत्री राव इन्द्रजीत सिंह ने एम्स निर्माण के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सामने भी मजबूत पक्ष रखा था।  डीसी यशेन्द्र सिंह ने कहा कि माजरा गांव के लोगों की सराहना करते हुए कहा कि इस गांव के लोग अच्छे है, जो एम्स प्रोजैक्ट के लिए अपनी जमीन देने के लिए दिल खोलकर आगे आए है। उन्होंने कहा कि एम्स के निर्माण से यहां के लोगों को फायदा होगा। यहां यह भी बतां दे कि एक  अक्टूबर को केन्द्रीय टीम में शामिल भारत सरकार में प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना, मिनिस्ट्री ऑफ हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर के संयुक्त सचिव सुनील शर्मा के नेतृत्व में मेडिकल सुपरिंटेंडेंट एम्स नई दिल्ली डी के शर्मा, निदेशक पीएमएसएस नरेन्द्र कुमार ओज, सीनियर आर्किटेक्ट सीडीबी राजीव कनौजिया, एम्स राय बरेली एसई जीपी श्रीवास्तव ने एम्स निर्माण के लिए माजरा गांव की जमीन का अवलोकन किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: