कोरोना महामारी में डॉक्टरों व मेडिकल स्टाफ के लिए हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला

– पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में डॉक्टरों व मेडिकल स्टाफ का रहना-खाना होगा मुफ्त – दुष्यंत चौटाला


– उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने जारी किए आदेश


हरियाणा सरकार ने कोरोना महामारी में जनता की सेवा में लगे डॉक्टरों,  पैरामेडिकल व आवश्यक सेवाओं संबंधित स्टाफ के लिए अहम निर्णय लिया है। सरकार ने प्रदेशभर में लोक निर्माण विभाग के सभी विश्राम गृहों में डॉक्टरों, पैरामेडिकल व आवश्यक सेवाओं से जुड़े स्टाफ का रहना व खाना मुफ्त कर दिया है। इस संबंध में मंगलवार को प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला, जिनके पास लोक निर्माण विभाग का प्रभार भी है, ने विभाग के संबंधित अधिकारियों को आदेश जारी किए।डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने आदेश जारी करते हुए बताया कि सरकार ने यह फैसला महामारी में अपना कर्तव्य निभा रहे डॉक्टरों व मेडिकल स्टाफ की सुविधाओं को देखते हुए लिया है। उन्होंने कहा कि इससे कोरोना की संकट की घड़ी में प्रदेश के नागरिकों की सेवा में लगे यह कर्मचारी घर ना जाकर अब पीडब्ल्यूडी के रेस्ट हाउस में मुफ्त में रह सकेंगे। दुष्यंत चौटाला ने  कहा कि इससे उनमें संक्रमण फैलने का भय भी कम होगा और उन्हें रहने के लिए उचित सुविधा भी मिलेगी। उन्होंने कहा कि सरकार डॉक्टरों, पैरामेडिकल व आवश्यक सेवाओं संबंधित स्टाफ के लिए विश्राम गृहों में मुफ्त में भोजन उपलब्ध करवाने की व्यवस्था भी करेगी ताकि उन्हें किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो। उपमुख्यमंत्री ने यह भी बताया कि पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस जिला उपायुक्त और सीएमओ के अधीन रहेंगे और इस बारे में सरकार ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश भी जारी कर दिए हैं। दुष्यंत चौटाला ने बताया कि जारी आदेश अनुसार पीडब्ल्यूडी विभाग के सभी सुपरिटेंडेंट इंजीनियर, एक्जीक्यूटिव इंजीनियर को निर्देश दिए गए है कि वे इस संबंध में नोडल अधिकारी, जिला उपायुक्त से सम्पर्क कर प्रदेश के डॉक्टरों, पैरामेडिकल व आवश्यक सेवाओं संबंधित स्टाफ के लिए विभाग के विश्राम गृहों में रहने व खाने की उचित व्यवस्था बनाएं। उन्होंने कहा कि इसको लेकर विभाग के अधिकारी उन्हें ई-मेल के माध्यम से भी सूचित करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: