Breaking News…COVID-19 वैक्सीनेशन : गुरुग्राम में ‘कोवैक्सीन’ लगवाने के बाद दो महिलाओं की तबीयत बिगड़ी

_1610788830

कोरोना महामारी के खात्मे लिए देशभर में आज से शुरू हुए टीकाकरण अभियान के दौरान गुरुग्राम में टीका लगवाने के बाद दो लोगों की तबीयत बिगड़ने की जानकारी मिली है। जानकारी के अनुसार, डीपीएसजी पालम विहार में बने टीकाकरण केंद्र में टीका लगवाने के बाद एक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और एक आशा कार्यकर्ता की तबीयत बिगड़ गई है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता आनंदलता का ब्लड प्रेशर बढ़ने से सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। ऑब्जर्वेशन के दौरान डॉक्टरों की टीम द्वारा दवाई देने के डेढ़ घंटे के बाद उनकी तबीयत ठीक हुई। वहीं, आशा कार्यकर्ता को बेचैनी हुई थी। दवाई देने के बाद वह भी नॉर्मल हो गईं।

इस केंद्र पर इन दोनों महिलाओं को ‘कोवैक्सीन’ लगाई गई थी। यह वैक्सीन का क्लीनिकल ट्रायल चल रहा है। इस केंद्र पर जिन लोगों को भी वैक्सीन लगाई गई, उनसे सहमति पत्र भरवाया गया है। हालांकि, जहां पर कोविशील्ड वैक्सीन लगाई गई वहां पर कोई दिक्कत सामने नहीं आई है।

पांच केंद्रों पर ‘कोविशील्ड’ और एक पर लग रही ‘कोवैक्सीन’ 

गुरुग्राम जिले में शनिवार को छह केंद्रों ओर टीकाकरण अभियान चल रहा है l स्वास्थ्य विभाग की ओर से पांच केंद्रों पर ‘कोविशील्ड’ वैक्सीन लगाई गई, वहीं चौमा स्थित डीपीएसजी स्कूल में ‘कोवैक्सीन’ का टीका लगाया जा रहा है l कोवैक्सीन की डोज लगाने से पहके स्वास्थ्यकर्मियों से सहमति पत्र भी भरवाया जा रहा है।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शनिवार को देशभर में शुरू हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कोविड-19 के खिलाफ भारत के टीकाकरण अभियान की शुरुआत की और इस दौरान कहा कि यह विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान है ओर यह भारत के सामर्थ्य को दर्शाता है।

टीकाकरण अभियान की शुरुआत से पहले वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों के ‘मेड इन इंडिया टीकों’ की सुरक्षा के प्रति आश्वस्त होने के बाद ही इसके उपयोग की अनुमति दी गई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: