G-20 समिट से पहले ‘नापाक’ साजिश

बनाया कश्मीर में दहशत फैलानेग्रेनेड प्लान‘, ISI कर रहा मॉनिटर


कश्मीर में सेना का ऑपरेशन ऑल आउट पिछले कई सालों से लगातार जारी है. घाटी में सक्रिय सभी आतंकी संगठन की कमर तोड़ दी. अब अपने वजूद को फिर से मजबूत करने के लिए आतंकी ऐसी साजिश रच रहे है जिससे न तो उसे ज्यादा नुकसान हो और मीडिया में अटेंशन भी पूरी मिल जाए. इसके लिए पाकिस्तान रमजान के पाक महीने में नापाक साजिश रचने में लगा है. खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक घाटी में ईद के बाद आतंकी हमलों को तेज करने का प्लान तैयार हो चुका रहा है. इस प्लान के हर एक कदम को खुद ISI के एक कर्नल रैंक के अधिकारी मॉनिटर कर रहे है. खुफिया एजेंसियों ने इस तरह की रिपोर्ट में इस प्लान के बाद अलर्ट जारी कर दिया.

पाकिस्तान ने बड़े पैमाने पर घाटी में फिर से ग्रेनेड हमले शुरू करने के लिए तंजीमों को हिदायत दी है. खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक आतंकी G-20 के आयोजित होने वाले कार्यक्रम को निशाना बनाने के अलावा भीड़ भाड वाले इलाकों, बाजार, सुरक्षा बल के कॉनवाय, सरकारी कर्मचारी को निशाने बनाने की कोशिश में हैं. ग्रेनड हमले के पीछे आतंकियों की मनशा ये रहती है की कम खतरा को मोल लेते हुए आसानी से ग्रेनेड हमला कर निकल भागने में कामयाब हो जाएं.

पहले होते थे 10-12 हमले
90 के दशक में भी बड़ी संख्या में ग्रेनेड से हमले किए जाते थे. अगर सूत्रों की मानें तो हर हफ्ते 10 से 12 अटैक तक होते थे, लेकिन बीच में यह हमले होना कम हो गए थे. साल 2020-2021 में ग्रेनड हमले तेज किए थे, क्योंकि आतंकियों के पास हथियार ही नहीं थे. LOC पर भारतीय सेना का सिक्योरिटी ग्रिड इतना मजबूत है कि पाकिस्तानकी तरफ से हथियार मुहैया कराना मुश्किल हो रहा है. अब ड्रोन के जरिए हथियार भेजने की कोशिशों में बढ़ोतरी हो रही है. ग्रेनेड को लेकर घूमना आतंकियों के लिए आसान होता है और इसलिए एक बार फिर से दहशत फैलाने ख़ास तौर पर G-20 के कार्यक्रम के आयोजन से पहले और उसके दौरान हमलों को तेज करने की फिराक में है.

प्लान ठीक से काम कर रहा है या नहीं उसके लिए बाकायदा हर हफ्ते उसे रिव्यू भी ISI कर रही है. हर हफ्ते अलग-अलग आतंकी तंजीमो से ISI फ़ीड बैक ले रही है. पाकिस्तान घाटी में आतंकी तंजीमो के ज़रिए अशांति फैलाकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कश्मीर के मुद्दे को फिर से उठाने की नापाक कोशिश में जुटा है. हालांकि भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को इस बात का एहसास है और पाक के नापाक इरादों को जमीदोज करने के लिए पूरी तरह से मुस्तैद है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *