कुलगाम में अलमारी में बंकर बनाकर छिपे थे चार आतंकी, सामने वाला हैरान करने वाला वीडियो

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारे गए आतंकियों का एक वीडियो सामने आया है। इसमें देखा जा सकता है कि चारों आतंकी चिन्नीगाम में एक अलमारी को बंकर बनाकर छिपे हुए थे। अब सुरक्षाबल और एजेंसियां यह पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि क्या आतंकियों को छिपाने में स्थानीय लोगों का भी हाथ था। सोशल मीडिया पर सामने आए वीडियो में देखा जा सकता है कि अलमारी के जरिए अंदर घुसने का रास्ता था और अंदर पूरा बंकर बनाया गया था।

बता दें कि कुलगाम के ऑपरेशन में भारतीय सेना के दो जवान भी शहीद हो गए थे। वहीं अलग-अलग ऑपरेशन में हिजबुल के छह आतंकी ढेर कर दिए गए। आतंकियों से लड़ते हुए दो जवान शहीद हुए उनमें एक एलीट पैराल कमांडो भी शामिल है। जम्मू-कश्मीर डीआईजी पुलिस आरआर स्वैन ने कहा कि इतनी बड़ी संख्या में आतंकियों को मारा जाना एक बड़ी सफलता है।

कुलगाम में शहीद होने वाले लांस नायक प्रदीप कुमार और सिपाही प्रवीण जंजाल प्रभाकर को श्रद्धांजलि दी गई। बता दें कि कुलगाम में पहला ऑपरेशन माडेरगाम में शुरू हुआ था जहां एक सैनिक शहीद हो गया। वहीं दूसरा एनकाउंटर चिनिगाम में चलाया गया। यहां चार आतंकियों को मार गिराया गया वहीं एक जवान शहीद हो गया। बताया गया कि सभी आतंकी हिजबुल मुजाहिद्दी न से थे। वहीं एक लोकल कमांडर की भी पहचान की गई है।

चिन्नीगाम में मारे गए आतंकियों की पहचान यावर बशीर डार, जाहिद अहमद डार, तवहीद अहमद राथेर और शकील अहमद वानी के तौर पर हुई है। वहीं दो आतंकी माडेरगाम में भी मारे गए जिनकी पहचान फैसला और आदिल के रूप में हुई है। बता दें कि ये आतंकी हमले उस दौरान हुए हैं जब जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ यात्रा भी चल रही है। बीते दिनों रियासी में आतंकियों ने श्रद्धालुओं की बस पर अटैक किया था। वहीं साथी आतंकियों के मारे जाने से बौखलाए आतंकियों ने रविवार को जम्मू-कश्मीर के राजौरी में भी एक चौकी को निशाना बनाने की कोशिश की। हालांकि जवाबी फायरिंग के बाद वे भाग खड़े हुए।